कोरोना गाइडलाइंस के साथ देशभर के 3,843 सेंटर्स पर हुआ मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट, NTA के मुताबिक 85 से 90% छात्रों ने दी परीक्षा

  • Hindi News
  • Career
  • NEET UG 2020 Live Updates| Medical Entrance Exam To Be Held Today On 13 September, Over 15 Lakh Students Had Registered For The Examination

एक घंटा पहले

  • सोशल डिस्टेंसिंग के कारण क्लास में 24 की जगह सिर्फ 12 कैंडिडेट्स ने दी परीक्षा
  • दो बार स्थगित होने और तमाम विरोध और प्रदर्शन के बीच आखिरकार आज संपन्न हो गई

देशभर के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए होने वाली NEET 2020 की परीक्षा रविवार को शाम 5 बजे सफलतापूर्वक हो गई। 155 शहरों में 3842 केंद्रों पर दोपहर 2 बजे से 5 बजे तक NEET का आयोजन किया गया। NTA सूत्रों के मुताबिक इस साल परीक्षा में करीब 15 लाख कैंडिडेट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था।

NEET 2020 का पूरा एनालिसिस यहां पढ़ें

दो बार स्थगित होने के बाद कई विवादों और विरोध के बीच हुई परीक्षा को लेकर शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ने खुशी जताई। उन्होंने कहा कि, आज 85 से 90% स्टूडेंट्स परीक्षा में बैठे। यह आत्मनिर्भर भारत के युवाओं के समर्पण और धैर्य को बताता है।

परीक्षा के बाद क्या बोलें स्टूडेंट्स?

परीक्षा में शामिल हुए कैंडिडेट्स के मुताबिक बायोलॉजी के क्वेश्चन सरल थे। हालांकि, उन्हें तीनों सेक्शन में फिजिक्स पार्ट थोड़ा कठिन लगा। वहीं, कुछ स्टूडेंट्स के मुताबिक पिछले साल की तुलना में इस बार का पेपर ज्यादा ट्रिकी नहीं था। परीक्षा में ज्यादातर क्वेश्चन NCERT बेस्ड थे। साथ ही कैंडिडेट्स परीक्षा के दौरान हुए सीटिंग अरेंजमेंट से भी संतुष्ट नजर आएं।

परीक्षा केंद्र पहुंचे कैंडिडेट्स के रिएक्शन

बिहार के पटना स्थित परीक्षा केंद्र पहुंची एक छात्रा ने बताया कि, “परीक्षा देने पहुंचे कुछ स्टूडेंट्स का टेम्परेचर हाई होने की वजह उन्हें कुछ समय के लिए प्रतीक्षा करने के लिए कहा जा रहा है, क्योंकि यह गर्म मौसम के कारण हो सकता है। हम पानी पी रहे हैं और आराम करने की कोशिश कर रहे हैं।”

कर्नाटक के बेंगलुरु स्थित एक परीक्षा केंद्र पहुंचे कैंडिडेट ने कहा कि एग्जाम के लिए हमने बहुत पढ़ाई की है और यह सही है कि हमें परीक्षा देने का मौका मिल रहा है।

पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में परीक्षा देने पहुंचे एक स्टूडेंट ने कहा कि यह उसके डेढ़ साल की मेहनत की परीक्षा है। हम सभी सावधानियों का ध्यान रखते हुए मास्क और सेनिटाइजर का लगातार इस्तेमाल कर रहे हैं।

चेन्नई में परीक्षा केंद्र पहुंचे एक छात्र ने बताया कि नीट सिर्फ एक परीक्षा है, जिसमें डरने जैसी कोई बात नहीं है। अगर इस बार एग्जाम क्लियर नहीं होता है, तो हम अगले साल फिर से परीक्षा में शामिल होंगे।

छत्तीसगढ़ के रायपुर में परीक्षा केंद्र पहुंचे कैंडिडेट्स सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करते नजर आए। इस दौरान स्टूडेंट्स के टैम्परेचर की भी जांच की गई।

इस साल ज्यादा हो सकता है कटऑफ

एक्सपर्ट के मुताबिक इस साल पिछले साल की तुलना में कटऑफ ज्यादा जा सकता है। टॉप स्कोर भी 700 से अधिक होने की संभावना है। एक्सपर्ट का मानना ​​है कि छात्रों को NEET परीक्षा पास करने के लिए 140 के हाई स्कोर की जरूरत हो सकती है। सरकारी मेडिकल कॉलेजों में सीट पाने के लिए यह स्कोर 510 – 450 अंकों के बीच हो सकता है।

पिछले दो साल के कटऑफ

कैटेगरी 2019 2018
अनरिजर्व्ड 701- 134 691- 119
एससी/एसटी/ओबीसी 133 से 107 118 से 96
अनरिजर्व्ड पीएच 133 से 120 118 से 107
एसटी/एससी/ओबीसी पीएच 119 से 107 106 से 96

NEET से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें

पिछले साल की तुलना में सरल रहा पेपर, बायोलॉजी ईजी तो फिजिक्स ने किया परेशान, कोरोना के बीच परीक्षा के इंतजामों से संतुष्ट दिखें कैंडिडेट्स

भोपाल में पेपर के लिए छात्रों को तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ा; परीक्षार्थियों के भूखे-प्यासे परिजन फुटपाथ पर बैठने को मजबूर रहे

राजस्थान में 269 सेंटर्स पर करीब एक लाख स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी; गैजेट्स, घड़ी और ज्वैलरी पर पाबंदी रही, डेढ़ बजे बाद किसी को नहीं दिया प्रवेश

0

Related Posts
Spread the love

Leave a Comment