9वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए जारी एकेडमिक कैलेंडर, आठ हफ्तों के कैंलेंडर में पहली बार क्रिएटिव लर्निंग और वोकेशनल स्किल को किया शामिल

  • Hindi News
  • Career
  • NCERT Alternative Calender| Union Education Minister Released Academic Calendar Forthe Students Of Class 9th To 12th, Included Creative Learning And Vocational Skills For The First Time

14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने 9वीं से 12वीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स के लिए अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर जारी किया है। केंद्रीय मंत्री ने इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी है। इससे पहले मंत्री ने NCERT के बनाएं प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्टेज और सेकेंडरी- हायर सेकेंडरी स्टूडेंट्स के लिए चार हफ्ते का एकेडमिक कैलेंडर जारी किया था। 9वीं से 12वीं कक्षा तक के इस वैकल्पिक कैलेंडर को भी NCERT ने बनाया है। कैलेंडर का मकसद स्टूडेंट्स को घर पर ही रह कर पढ़ाई में मदद करना है।

हिंदी, इंग्लिश, उर्दू और संस्कृत भाषा में उपलब्ध

कैलेंडर में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्कूलों में पढ़ाए जाने वाले कोर्सेस और पढ़ाई में इस्तेमाल होने वाले संसाधनों को शामिल किया गया है। इसके अलावा इसमें पहली बार कलात्मक शिक्षा, शारीरिक अभ्यास, योग, वोकेशनल स्किल आदि प्रायोगिक शिक्षण गतिविधियां भी शामिल की गई है। इसमें क्लासवाइज और सबजेक्ट वाइज एक्टिविटीज को भी हिस्सा बनाया गया है। यह कैलेंडर हिंदी, इंग्लिश, उर्दू और संस्कृत भाषा में उपलब्ध है। साथ ही इसमें स्टूडेंट्स, टीचर्स और पैरेंट्स में तनाव या अवसाद को कम करने की टिप्स भी दिए गए हैं।

21 सितंबर से 9वीं से 12वीं के लिए आंशिक तौर पर खुलेंगे स्कूल

इस अल्टरनेटिव कैलेंडर को प्रौद्योगिकी और सामाजिक मीडिया उपकरणों के उपयोग से इस तरह से बनाया गया है, जिससे स्टूडेंट्स आसानी से घर पर ही शिक्षा हासिल कर सकें। वहीं, केंद्र सरकार की तरफ जारी गाइडलाइन के बाद 21 सितंबर से आंशिक तौर पर 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल खोले जा रहे हैं। स्टूडेंट पैरेंट्स की अनुमति और अपनी इच्छा से स्कूल जा सकते हैं।

0

Related Posts
Spread the love

Leave a Comment