IITs में एडमिशन के लिए कल होगी परीक्षा, देशभर के 1150 केंद्रों में एग्जाम में देंगे करीब 1.60 लाख कैंडिडेट्स, जानें परीक्षा के दौरान कैसा होगा ड्रेस कोड

  • Hindi News
  • Career
  • JEE Advanced 2020| Examination Will Be Held Tomorrow For Admission In IITs, About 1.60 Lakh Candidates Will Appear In The Examination In 1150 Centers Across The Country, Know How The Dress Code Will Be During The Exam

5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

देश के 23 IITs में एडमिशन के लिए रविवार, 27 सितंबर को JEE एडवांस्ड का आयोजन किया जाएगा। इस साल परीक्षा में कुल 1,60,831 कैंडिडेट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है। परीक्षा का आयोजन दो शिफ्ट में किया जाएगा। पहली शिफ्ट सुबह 9 से 12 बजे और दूसरी दोपहर 2:30- 5:30 बजे आयोजित होगी। कोरोना के बीच आयोजित हो रही परीक्षा के दौरान कैंडिडेट्स को कोरोना से बचाव के लिए जारी एसओपी का पालन करना होगा। इससे पहले परीक्षा आयोजित कर रही संस्थान IIT दिल्ली जानकारी दी कि परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराने वाले करीब 97.94 फीसदी कैंडिडेट्स को टॉप 3 शहरों के आधार पर एग्जाम सेंटर अलॉट किया गया है।

ये होगा ड्रेस कोड:

  • भीड़ से बचने के लिए कैंडिडेट्स को अलग-अलग समय पर रिपोर्टिंग करनी होगी।
  • कैंडिडेट्स को रिपोर्टिंग टाइम की जानकारी भी एसएमएस के जरिए दी जाएगी।
  • परीक्षा शुरू होने से 25 मिनट पहले कम्प्यूटर में लॉग इन कर जरूरी निर्देशों को पढ़ सकेंगे।
  • परीक्षा के दौरान कैंडिडेट्स बड़े बटन वाला कोई भी कपड़ा न पहनें।
  • चेन, अंगूठी, ब्रेसलेट, ईयररिंग्स, पेंडेंट, हेयर पिन, हेयर बैंड और ताबीज भी ना पहने।
  • परीक्षा देने गए कैंडिडेट को सिर्फ चप्पल या सैंडल पहनने की अनुमति होगी।
  • परीक्षा के दौरान रफ वर्क के लिए राइटिंग पैड परीक्षा हॉल में ही दिए जाएंगे।

इन चीजों पर होगा बैन

स्मार्ट या डिजिटल घड़ी, मोबाइल फोन, ब्लूटूथ डिवाइस, ईयरफोन, माइक्रोफोन, पेजर, हेल्थ बैंड सहित किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक गैजेट, गॉगल, इनमें से कोई भी चीज कैंडिडेट्स हॉल में नहीं ले जा पाएंगे।

कोरोना के कारण कितनी हुई प्रभावित परीक्षा

  • सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के एहतियाती उपायों को बनाए रखने के लिए परीक्षा केंद्रों को 600 से बढ़ाकर 1,150 तक कर दिया है। परीक्षा का आयोजन देशभर के 222 शहरों के परीक्षा केंद्रों में किया जाएगा।
  • विदेश यात्रा पर लगे मौजूदा प्रतिबंध के कारण, जेईई अथॉरिटी ने विदेशी केंद्रों में जेईई एडवांडस्ड 2020 का संचालन नहीं करने का फैसला लिया है। ऐसे में विदेश में रहने वाले सभी उम्मीदवार भारत में परीक्षा देने का विकल्प चुन सकते हैं।
  • कोरोना के कारण कई छात्र सरकारी कार्यालयों से ये प्रमाण पत्र समय पर हासिल नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में जाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (JoSAA) ने कैंडिडेट्स को छूट दी है कि वे काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन के बजाय ऑनलाइन एडमिशन और फीस सबमिशन के समय जरूरी प्रमाण पत्र जमा कर सकेंगे।

परीक्षा के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

  • हल्का बुखार, खांसी होने आइसोलेशन रूम में बैठकर परीक्षा देनी होगी।
  • सोशल डिस्टेंसिंग के चलते एक रूम में सिर्फ 12 स्टूडेंट्स को बैठाया जाएगा।
  • एक से दूसरे छात्र के बीच छह फीट की दूरी होगी, इसलिए बीच में दो कंप्यूटर खाली रहेंगे।
  • परीक्षा में दोनों पेपर से पहले बैठने वाले एरिया, कुर्सी, टेबल, मॉनिटर, की-बोड, माउस, डेस्ट आदि से लेकर दरवाजे, हैंडल, व्हीलचेयर(दिव्यांग छात्रों के लिए) आदि को सेनेटाइज किया जाएगा।
  • पेपर शुरू होने से पहले छात्र को अपने रोल नंबर के सामने हस्ताक्षर करना होगा। हस्ताक्षर से पहले और बाद में हाथ सेनेटाइजर से साफ करवाए जाएंगे।
  • परीक्षा केंद्र पहुंचते ही सबसे पहले साबुन से हाथ धुलवाएं जाएंगे। बाद में नया मास्क और दस्ताने मिलेंगे।
  • परीक्षा केंद्र में कोविड-19 के नियमों का पालन नहीं करने परीक्षा से बाहर कर दिया जाएगा।

Related Posts
Spread the love

Leave a Comment